Rising Bharat International News Feed: October 9th 2020

  1. भारत के साथ दशकों पुरानी अटूट दोस्ती ने वैश्विक कहावत को गलत साबित किया: रूस

Key points:

  1. रूस ने भारत के दशकों पुरानी अटूट दोस्‍ती की जमकर प्रशंसा की है। रूसी विदेश मंत्रालय ने कहा कि ऐसा कहा जाता है कि किसी भी देश का कोई स्‍थायी मित्र या शत्रु नहीं होता है, अगर कोई चीज महत्‍वपूर्ण है तो वह है हित। रूस और भारत की दोस्‍ती इस मान्‍यता को खारिज करती है। दोनों देशों के बीच यह दशकों पुरानी दोस्‍ती एक विशिष्‍ट उदाहरण पेश करती है जो समानता पर आधारित है
  2. रूसी विदेश मंत्रालय की प्रवक्‍ता ने मारिया जखरोवा ने कहा कि 3 अक्‍टूबर का दिन भारत और रूस के संबंधों में एक महत्‍वपूर्ण घटना है। 20 साल पहले तीन अक्‍टूबर के दिन ही भारत-रूस रणनीतिक भागीदारी पर हस्‍ताक्षर हुए थे। दुनिया में सबसे पहले हुए भागीदारी में से एक भारत-रूस पार्टनरशिप आधुनिक कूटनीति के शब्दकोश का हिस्‍सा बन गया है।
  3. रूस के दौरे पर गए रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह को मास्‍को ने भरोसा दिया था कि वह पाकिस्‍तान को हथियार नहीं देगा। इससे पहले रूस ने पाकिस्‍तान को आधा दर्जन हेलिकॉप्‍टर दिए थे जिसका भारत ने व‍िरोध किया था। इसके बाद रूस ने इन हेलिकॉप्‍टर्स की सप्‍लाइ को रोक दिया था। रूस भारत को सबसे ज्‍यादा हथियारों की आपूर्ति करने वाला देश है। इसमें परमाणु ऊर्जा से चलने वाली सबमरीन शामिल है।

(Navbahrat Times, 9 October, 2020) News Link

  1. भारत और इजरायल का कमाल, चुटकियों में पता चलेगा कोरोना है या नहीं, सिर्फ पाइप में मारना होगा फूंक और 1 मिनट के भीतर नतीजे

Key points:

  1. भारत और इजरायल ने साथ मिलकर तैयार की कोरोना टेस्ट की गेमचेंजर टेक्नॉलजी
  2. सिर्फ 30 से 50 सेकंड में मिलेंगे नतीजे, सैंपल भी देने की जरूरत नहीं, सिर्फ पाइफ में फूंक मारना होगा
  3. भारत में इजरायल के राजदूत रॉन माल्का ने पीटीआई को दिए इंटरव्यू में इस बारे में जानकारी दी
  4. आवाज से कोरोना टेस्ट का भी हो चुका है ट्रायल – भारत और इजरायल ने संयुक्त रूप से 4 टेस्ट टेक्नॉलजी का ट्रायल कर चुके हैं। भारत में बड़ी तादाद में इन टेस्ट के लिए सैंपल लिए गए। इन तकनीकों में ब्रेथ ऐनालाइजर और वॉइस टेस्ट भी शामिल हैं। इनमें कोरोना का तुरंत पता लगाने की क्षमता है।
  5. वैक्सीन को लेकर दोनों देशों के बीच तालमेल के सवाल पर माल्का ने कहा कि दोनों देश हमेश से रिसर्च और टेक्नॉलजी को एक दूसरे से शेयर करते रहे हैं। उन्होंने कहा कि हम एक दूसरे का सहयोग और समर्थन कर रहे हैं। इजरायली राजदूत ने कहा कि भारत में कोरोना वैक्सीन का हब बनने के लिहाज से तमाम सुविधाएं मौजूद हैं। उन्होंने उम्मीद जताई कि जब भी विश्वसनीय, सुरक्षित और कारगर वैक्सीन बनेगी तब उसमें से ज्यादातर का उत्पादन भारत में होगा। माल्का ने कहा कि भारत जब भी वैक्सीन बनाएगा तब इजरायल की जरूरतों का भी ख्याल रखेगा।

(Navbharart Times, 9 October 2020) News Link

  • Relation with Taiwan
  •  ताइवान को ‘भारत है पसंद’, चीन से फिर कहा, ‘भाड़ में जाओ’

Key points:

  1. चीन ताइवान पर लंबे वक्त से अपना दावा ठोंकता आया है। हालांकि, ताइवान चीन की धमकियों के आगे झुका नहीं है और इस बार उसने भारत के साथ अपनी दोस्ती का पैगाम भी दिया है।
  2. ताइवान के विदेश मंत्रालय ने शुक्रवार को ट्वीट किया- ‘भारत से कई दोस्त दोस्त ताइवान नैशनल डे के जश्न में शामिल होने के लिए तैयार हैं। ताइवान में हमारे दिल इस अद्भुत समर्थन से खुश हैं। शुक्रिया। जब हम कहते हैं कि हमें भारत पसंद है, हम उसे मानते हैं। ‘गेट लॉस्ट’। गौरतलब है कि इससे पहले जब भारत में चीनी दूतावास ने भारतीय मीडिया से कार्यक्रम से दूर रहने के लिए कहा था तब भी ताइवान ने चीन को करारा जवाब दिया था।
  3. ताइवान के विदेश मंत्रालय ने ट्वीट किया था, ‘भारत धरती पर सबसे बड़ा लोकतंत्र है जहां जीवंत प्रेस और आजादपसंद लोग हैं। लेकिन ऐसा लगता है कि कम्यूनिस्ट चीन सेंसरशिप थोपकर उपमहाद्वीप में घुसना चाहता है। ताइवान के भारतीय दोस्तों का एक ही जवाब होगा- भाड़ में जाओ।’

(Navbhrat Times, 9 October 2020) News Link

  1. Tomato prices sky-rocket in Pakistan; Imran Khan govt blames India

Key points:

  1. Tomato prices have sky-rocketed in Pakistan, touching Rs 200 per kg-mark across major cities including Karachi and Islamabad this week. Despite the country importing essential commodities to meet the demand, the prices continue to rise every day, leading to high inflation.
  2. The current spike in prices, however, is blamed on a ban in imports from Iran and Afghanistan.
  3. The Pakistan government recently banned tomato and onion exports from these two countries, leading  to shortage of the staple foods items
  4. Some ministers in the Imran Khan government are also blaming India for its economic woes. Pakistan’s information and broadcasting minister Shibli Faraz, during a presser that was called on inflation on Wednesday this week, blamed India for everything that’s bad with Pakistan.

(Business Today, 9 October 2020) News Link

  • पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी ISI को गुप्त जानकारी देने वाला एचएएल कर्मचारी गिरफ्तार

Key points:

  1. पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी इंटर-सर्विसेज इंटेलिजेंस (आईएसआई) को लड़ाकू विमान संबंधी जानकारी मुहैया कराने को लेकर हिंदुस्तान एरोनॉटिक्स लिमिटेड (एचएएल) के एक कर्मचारी को गिरफ्तार किया गया है।
  2. महाराष्ट्र पुलिस ने शुक्रवार को बताया कि व्यक्ति भारतीय लड़ाकू विमान और उसकी विनिर्माण इकाई संबंधी खुफिया जानकारी आईएसआई को दे रहा था।
  3. एक पुलिस अधिकारी ने कहा, ‘राज्य आतंकवाद रोधी दस्ते (एटीएस) की नासिक इकाई को व्यक्ति के बारे में विश्वसनीय खुफिया जानकारी मिली थी। व्यक्ति आईएसआई के लगातार संपर्क में था।’ उन्होंने बताया कि व्यक्ति भारतीय लड़ाकू विमान और उसकी संवेदनशील विस्तृत जानकारी संबंधी खुफिया सूचना के अलावा नासिक स्थित ओझर में एचएएल विमान विनिर्माण इकाई, वायुसेना अड्डे और विनिर्माण इकाई में प्रतिबंधित क्षेत्र संबंधी जानकारी दे रहा था।
  4. आरोपी के खिलाफ शासकीय गुप्तता अधिनियम के तहत मामला दर्ज किया गया है। पुलिस अधिकारी ने कहा कि उसके पास से पांच सिम कार्ड के साथ तीन मोबाइल हैंडसेट और दो मेमोरी कार्ड जब्त किए गए हैं। उन्होंने कहा कि फोन और सिम कार्ड जांच के लिए फॉरेंसिक साइंस लैबोरेटरी भेजे जा रहे हैं
  5. इससे पहले पांच अक्तूबर को नासिक से ही एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया गया था। नासिक की एक अदालत ने यहां के देवलाली के रक्षा क्षेत्र की तस्वीरें पाकिस्तान के एक व्हाट्सऐप ग्रुप में भेजने के आरोप में एक व्यक्ति को नौ अक्तूबर तक के लिए पुलिस हिरासत में भेज दिया था।

(Amar Ujala, 9 October 2020) News Link

  • European countries
  1. काला धन: बड़ी सफलता, स्विस बैंक में भारतीय खाताधारकों की दूसरी सूची मिलीKey points:
  2. काले धन को लेकर  स्विट्जरलैंड के साथ संधि के तहत सूचना के आदान-प्रदान की नई व्यवस्था के तहत स्विट्जरलैंड सरकार ने भारतीयों के स्विस बैंक खातों की दूसरी सूची भारत सरकार को मुहैया कराई है। स्विट्जरलैंड सरकार ने कहा है कि उसने 86 देशों के साथ 31 लाख वित्तीय खातों की जानकारी साझा की है।
  3. भारत उन 86 देशों में शामिल है जिनके साथ स्विट्जरलैंड के संघीय कर प्रशासन (एफटीए) ने इस साल सूचना के स्वत: आदान-प्रदान पर वैश्विक मानकों के ढांचे के तहत वित्तीय खातों की जानकारी दी है
  4. अधिकारियों ने कहा कि इस साल 86 देशों के साथ जो जानकारियां साझा की गई हैं उसमें एक बड़ी संख्या भारतीय नागरिकों और संस्थाओं से संबंधित है। उन्होंने कहा कि स्विस अधिकारियों ने भारत के अनुरोध पर पिछले एक साल में 100 से अधिक भारतीय नागरिकों और संस्थाओं के बारे में जानकारी साझा की है, जिनके खिलाफ कर चोरी और वित्तीय गड़बड़ियों की जांच चल रही थी।

(Amar Ujala, 9 October 2020) News Link

  • Relation with African countries
    • हिंसा ग्रस् दक्षिणी सूडान में आईपीएस अधिकारी रागिनी बनीं देश के लिए गर्व करने की वजह, जानें कैसे

Key Points:

  1. संयुक्‍त राष्‍ट्र की तरफ से जारी एक शॉर्ट वीडियो में रागिनी ने बताया है कि इस तरह के शांति अभियान का सदस्‍य बनना उनके लिए एक सपने के सच होने जैसा है। रागिनी 6 अप्रैल 2019 को संयुक्‍त राष्‍ट्र के शांति अभियान का हिस्‍सा बनी थीं। इस मिशन में वो अकेली नहीं हैं, बल्कि उनके पति भी इसी मिशन का हिस्‍सा हैं। उन्‍होंने ही यूएन मिशन के लिए रागिनी को प्रेरित भी किया था।
  2. रागिनी दक्षिणी सूडान में तैनात हैं। ये देश काफी समय से हिंसा की चपेट में है। इसका सबसे ज्‍यादा खामियाजा यहां की महिलाओं और बच्‍चों को उठाना पड़ रहा है। हजारों की तादाद में यहां पर लोग अपने ही देश में शरणार्थी बनकर रह गए हैं और यूएन की मदद पर जीवन गुजार रहे हैं। ऐसे में एक महिला अधिकारी के तौर पर रागिनी यूएन के शिविरों में रह रही महिलाओं के लिए भगवान से कम नहीं हैं। रागिनी बताती हैं कि यहां पर रह रही महिलाओं को ऐसी कई तरह की परेशानियां होती हैं जो वो किसी पुरुष अधिकारी से नहीं बता सकती हैं। ऐसे में वो उनकी मौजूदगी इन महिलाओं को राहत देती है।
  3. रागिनी मानती हैं कि यहां फैली हिंसा ने बड़े पैमाने पर महिलाओं और बच्‍चों को मुश्किलों में डाला है। महिला अधिकारी के होने का फायदा ये है कि महिलाएं अपनी बात सहजता से कर पाती हैं। उन्‍होंने यूएन के वीडियो में कहा कि उन्‍हें जो फीडबैक मिलता है उससे उन्‍हें काफी सुकून मिलता है। वो कहती हैं कि उन्‍हें यहां पर आने के बाद अभूतपूर्व अनुभव हुआ है। यहां पर आकर वो उन लोगों की मदद कर पाई हैं, जो इसके सही मायने में हकदार हैं। यहां पर काम करने वाला हर व्‍यक्ति इन लोगों के लिए आशा का स्रोत है। रागिनी ने वीडियो में बताया कि यूएन मिशन की नीली टोपी पहनने के बाद उन्‍हें एक नई ताकत और संतुष्टि मिलती है। उन्‍होंने यूएन मिशन के लिए दूसरों को भी प्रेरित किया है। उनका कहना है कि आप भी ये कर सकते हैं और आपको ये जरूर करना चाहिए।

(Dainik Jagran, 9 October 2020) News Link

  • Relation with US
  1. Top US diplomat Stephen Biegun to visit India

Key points:

  1. Top US diplomat Stephen Biegun will visit India from October 12 to 14 to follow up on US Secretary of State Mike Pompeo’s October 6 conversation with Minister of External Affairs S. Jaishankar in Tokyo.
  2. The US Deputy Secretary of State will also hold talks ahead of a U.S.-India 2+2 Ministerial Dialogue later this year, according to a US State Department statement.
  3. His engagements will focus on advancing the US-India Comprehensive Global Strategic Partnership and how the two sides can work together to advance peace, prosperity, and security in the Indo-Pacific and around the globe.

(Tribune India, 9 October 2020) News Link

  • US imposes tariffs on aluminum sheet from India, 17 other countries

Key points:

  1. The United States is imposing new tariffs on $1.96 billion worth of aluminum sheet products from 18 countries after determining that the goods were being dumped, Commerce Secretary Wilbur Ross said on Friday.
  2. India, Brazil, Croatia, Egypt, Greece, Indonesia, Italy, Oman, Romania, Serbia, Slovenia, South Africa, South Korea, Spain, Taiwan and Turkey were also affected, he said.
  3. The tariff rate would be largest against Germany with 52% to 132% followed by Bahrain with rates in single digits, Ross said.

(Business Standard, 9 October 2020) News Link

  1. India and UK in final stages of signing defence logistics pact, will extend reach

Key points:

  1. India and the UK are in the final stages of signing a defence logistics sharing pact, according to people aware of the development, adding to a host of similar agreements with other Indo-Pacific nations that can expand the reach of Indian warships and aircraft in the region.
  2. “India’s military logistics pacts have the potential to substantially enhance the Indian Navy’s operational reach in the Indo-Pacific region. From Reunion to Djibouti and Salalah to Guam, India now has access to the remote reaches of the Indo Pacific. A logistics agreement with the UK will, for the first time, offer India access to naval facilities in the distant Atlantic,” said Abhijit Singh, who heads the maritime policy initiative at the Observer Research Foundation.
  3. While the practical use will be determined in the coming years, these pacts can give India access to a range of ports and military bases in the region – from major garrisons in the Gulf to the remote Keeling island in the South Indian Ocean, and strategic military locations like Okinawa and Busan.

(Business Today,9 October 2020) News Link

  • Mallya can’t be extradited till resolution of ‘secret legal’ matter: UK tells India

Key points:

  1. Indian business man Vijay Mallya. Credits: AP Photo The UK has conveyed to India that fugitive businessman Vijay Mallya cannot be extradited till the resolution of a “secret legal” matter, the Ministry of External Affairs said
  2. “Now, we have been told that there is a secret legal matter and that his extradition cannot take place without its resolution… We are in touch with the UK government,” External Affairs Ministry Spokesperson Anurag Srivastava said at a media briefing.
  3. He said New Delhi has been in constant touch with the UK government after Mallya exhausted all legal remedies against his extradition to India.
  4. In June, India urged the UK not to consider any request for asylum by Mallya as there appeared to be no ground for his persecution in the country. The UK government had indicated that Mallya is unlikely to be extradited to India anytime soon, saying there is a legal issue that needed to be resolved before his extradition can be arranged. (Deccan Herald,9 October 2020) News Link
  • India and the UK set to sign two major agreements! To work together on Jet engine technology

Key points:

  1. With two major agreements in the pipeline including a Defence Logistics Agreement which is in the final stages and a Defence Training MoU in developmental stages, the UK is keen to have more partnerships in the defence sector. Last year in April the two countries had inked the Defence Technology and Industrial Capability Cooperation (DTICC) MoU.
  2. “There are a number of existing and developing partnerships and joint ventures between the UK and India at both a Government and Industry level,” says Dominic Beales Head of UK Defence & Security Exports India.
  3. “As natural defence partners, and not just supporters of ‘Make in India’, we also want to ‘Create in India’ as we develop new technologies together,” Brigadier Gavin Thompson UK Defence Adviser says.

(Financial Express,9 October 2020) News Link

  • New India-UK defence logistics pact on cards reflects policy shift in London

Key points:

  1. India and the UK are in the final stages of agreeing on a key defence logistics pact, reflecting a policy shift in London as the Boris Johnson government finalises its one-in-a-generation Integrated Review of Britain’s foreign policy, defence and international development in the post-Brexit world.
  2. Avinash Paliwal, an international relations expert at the School of Oriental and African Studies, said on Friday: “A defence logistics pact between India and the UK is significant for multiple reasons. Apart from the military strategic value of such a pact, especially in the IOR (Indian Ocean Rim), it signals a foreign policy shift on London’s part on the China and Pakistan questions”.
  3. “For long, the UK has tried to balance relations between China and the US, as well as India and Pakistan. Such a defence logistics pact affords clarity of intent i.e. the UK is increasingly wary of China, and is unlikely to let Pakistan’s sensitivities hinder a truly strategic partnership with India (something that has been the case for many years).”
  4. Rahul Roy-Chaudhury, senior fellow at IISS, said: “The UK’s once-in-a-generation security review with a tilt towards the Indo-Pacific, growing convergence on China and the recent government-to-government arms transfer pact, set the political context for boosting bilateral defence links and maritime security cooperation in the western Indian Ocean”
  5. “The defence logistics pact (unlikely to be challenged by the Labour Party under Keir Starmer’s leadership, who has also ameliorated the party’s stand on Kashmir more to India’s liking), will set a new more collaborative tone between India and the UK, and help reducing mistrust in New Delhi about the UK’s ‘pro-Pakistan’ inclinations in the long run,” he added.

(Hindustan Times,9 October 2020) News Link

  • Relation with Bhutan
  • India, Bhutan collaborate on phase 3 trials of COVID-19 vaccine

Key points:

  1. India is collaborating with Bhutan for conducting phase-3 trials of COVID-19 vaccine even as New Delhi has sent seven consignments of essential medicines to the country since March 2020 amid the pandemic.
  2. The consignments of essential anti-COVID medicines include Paracetamol, Cetrizine, Hydroxychloroquine. Other than medicines, India has also sent medical equipment such as PPE kits, N95 masks, RT-PCR test kits, and X-ray machines to Bhutan.

(DNA India, 9 Ocotber 2020) News Link

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s