Rising Bharat National News Feed: October 1st 2020

  1. नई शिक्षा नीति पर शिक्षा मंत्री ने दिए सवालों के जवाब

Key points:

  1. क्या नई शिक्षा नीति के तहत 11वीं में स्टूडेंट्स अलग-अलग संकायों से कोई भी विषय चुन सकेंगे? – नई शिक्षा नीति (NEP 2020) आर्ट्स और साइंस को एक-दूसरे से बिल्कुल अलग नहीं करती। बल्कि इसमें विभिन्न संकायों में से विषय चुनने की छूट दी गई है। एनसीईआरटी (NCERT) द्वारा तैयार किए जा रहे नेशनल करिकुलम फ्रेमवर्क (National Curriculum Framework) में ये चीजें विस्तार में दी जाएंगी।
  2. NEP में स्पोर्ट्स और फिजिकल एजुकेशन प्रोग्राम्स को अनिवार्य किया जाएगा? – नई शिक्षा नीति 2020 में किए गए प्रावधानों के अनुसार, स्पोर्ट्स क्लासरूम की डे-टू-डे एक्टिविटीज का हिस्सा होगा। कक्षाओं में स्पोर्ट्स-इंटीग्रल लर्निंग पर फोकस किया जाएगा। ताकि स्टूडेंट्स फिटनेस के साथ-साथ लाइफ स्किल्स भी सीख सकें।
  3. 5+3+3+4 स्ट्रक्चर क्या होगा? – नई शिक्षा नीति में 5+3+3+4 स्ट्रक्चर का उल्लेख किया गया है। इसके तहत 3 से 6 साल तक की उम्र के बच्चों के लिए प्री-स्कूल अनिवार्य होगा। इस स्ट्रक्चर को नेशनल करिकुलम फॉर स्कूल एजुकेशन में विस्तार से समझाया जाएगा, जो 2021 में आने वाला है।
  4. मौजूदा हालात में NEP किस तरह स्टूडेंट्स की सीखने की क्षमता और आत्मविश्वास बढ़ाएगी? – मौजूदा महामारी के हालात और भविष्य में आने वाले ऐसे किसी हालात को ध्यान में रखते हुए नई शिक्षा नीति में बच्चों के लिए तकनीक और ऑनलाइन शिक्षा पर विशेष जोर दिया गया है। इसके तहत SWAYAM, DIKSHA जैसे ऑनलाइन लर्निंग प्लेटफॉर्म्स को और विस्तार दिया जाएगा।
  5. क्या इसमें माध्यमिक स्कूलों को 12वीं तक अपग्रेड करने का प्रावधान है? – सेकंडरी लेवल (कक्षा 9वीं से 12वीं) पर नया करिकुलर स्ट्रक्चर नई शिक्षा नीति का हिस्सा है। इसे लागू भी किया जाएगा। वहीं, स्कूलों को उच्च माध्यमिक (12वीं) स्तर तक अपग्रेड किए जाने का प्रावधान पहले से ही समग्र शिक्षा में है। यह राज्यों व केंद्रशासित प्रदेशों द्वारा भेजे जाने वाले प्रस्तावों के आधार पर किया जाता है।
  6. कब तक लागू होगी नई शिक्षा नीति? – नई शिक्षा नीति को लागू करने की योजना तैयार की जा रही है। इसमें विभिन्न स्टेकहोल्डर्स से सलाह-मश्वरा जारी है। योजना तैयार होने के बाद इस नीति को एनईपी में दिए गए समयानुसार लागू किया जाएगा। इसे चरणबद्ध तरीके से लागू किया जाएगा। जो संस्थान पहले इसके लिए तैयारी कर लेंगे, वहां से शुरुआत होगी।

(Navbharat Times, 1 October 2020) News Link

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s